GETTY/IMAGE

BY-THE FIRE TEAM


इधर महिलाओं द्वारा अपने उत्पीड़न का मामला #me too वेबसाइट पर उठा ही रही थीं कि वहीं दूसरी ओर नार्थ कोरिया में महिलाओं ने अपने ऊपर होने वाले अत्याचार का खुलासा करके सनसनी फैला दी है.

ह्यूमन राइट्स वॉच (एचआरडब्ल्यू) की एक रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर कोरिया के अधिकारी बिना किसी डर के महिलाओं का यौन उत्पीड़न करते हैं.

रिपोर्ट का कहना है कि यहां पर यौन उत्पीड़न होना इतनी आम बात है कि वह सामान्य जीवन का हिस्सा-सा बन गया है. यह रिपोर्ट 62 उत्तर कोरियाई लोगों से बातचीत के आधार पर तैयार की गई है ​जो देश छोड़कर चले गए. उन्होंने अपने साथ हुए रेप और यौन उत्पीड़न के मामलों के बारे में विस्तार से बताया.

एचआरडब्ल्यू का कहना है कि इस रिपोर्ट में यौन उत्पीड़न की मनमानी और छुपी हुई संस्कृति को सामने लाया गया है. इनमें खासतौर पर पुरुषों के द्वारा किया गया यौन उत्पीड़न शामिल है.

40 साल की एक पूर्व ट्रेडर ओ जंग-ही ने रिपोर्ट में बताया कि ”वो हमें (सेक्स) टॉय की तरह समझते हैं. हम उनकी दया पर रहते हैं. कभी-कभी आप बिना किसी कारण के ही रात को रो पड़ते हैं.

गौरतलब है कि गुप्तता बरतने वाले उत्तर कोरिया जैसे देश से इस तरह की जानकारी निकालना बेहद मुश्किल है क्योंकि वहां से ऐसी रिपोर्टे बहुत कम आती हैं.

एचआरडब्ल्यू के मुताबिक कुछ महिलाओं ने बताया कि यौन उत्पीड़न इतनी आम बात हो गई थी कि उन्हें लगता ही नहीं था कि ये असामान्य है. कुछ कहते हैं कि इसे रोज़मर्रा की ज़िदंगी का हिस्सा मानते हुए स्वीकार कर लिया गया है.

रिपोर्ट बताती है कि यौन शिक्षा की कमी और ताकत का ग़लत इस्तेमाल करना इस मानसिकता का कारण है. यौन उत्पीड़न करने वाले लोगों में उच्च रैंक वाले पार्टी अधिकारी, जेल के गार्ड, पुलिस और सैनिक शामिल होते हैं.

​इंटरव्यू में लोगों ने बताया है कि जब कोई अधिकारी किसी महिला को चुनता था तो उसकी बात मानने के अलावा महिला के पास कोई विकल्प नहीं बचता था.

यौन उत्पीड़न

2014 में यूएन रिपोर्ट में भी ये बताया गया था कि उत्तर कोरियाई सरकार द्वारा व्यवस्थित और व्यापक स्तर पर मानवाधिकार उल्लंघन किया गया है.”

रिपोर्ट का ये भी कहना था कि जेलों और हिरासत में जबरन गर्भपात, रेप और यौन हिंसा की जाती है. इस सम्बन्ध में सबसे खतरनाक बात यह कि अब लोग इसे बड़ा ही सामान्य मानने लगे हैं. यह आने वाले समय के लिए बहुत बुरा संकेत है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here