PRATIKATAMK_PHOTO

BY-THE FIRE TEAM


मीडिआ गलियारा से पता चला है कि भारत की ही तरह पाकिस्तान भी एक बार में तीन तलाक़ को अवैध घोषित कर सकता है.

गौरतलब है कि अभी भारत में तीन तलाक़ बिल फ़िलहाल राज्यसभा में लटका हुआ है.

पाकिस्तान की काउंसिल ऑफ़ इस्लामिक आइडोलॉजी (सीआईआई) की रिपोर्ट में एक बार में तीन तलाक़ को अवैध या अप्रभावी घोषित किया जा सकता है. ऐसे मामलों में सख़्त सज़ा भी  दिए जाने का विचार चल रहा है.

सीआईआई के सदस्य इस मामले में क़ानूनी संशोधन पर काम कर रहे हैं. पाकिस्तान में तीन तलाक़ पर सीआईआई का फ़ैसला शरीयत प्रावधानों के तहत होगा.

पाक अखबार ‘डॉन’ से बात करते हुए डॉ. अयाज ने मुस्लिम समाज के भीतर एक बार में तीन तलाक को लेकर चिंता जताई.

उन्होंने कहा कि ‘सीआईआई मेें भारत के भीतर इस मुद्दे पर आए फैसले को लेकर गंभीर विचार-विमर्श हुआ है.

पाक काउंसिल को इस मुद्दे पर ऑल इंडियन मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का पत्र भी मिला है जिस पर बहस जारी है।’

सीआईआई के एक वरिष्ठ सदस्य ने ‘डॉन’ को बताया कि ‘काउंसिल के सदस्य पाकिस्तान में एक बार में तीन तलाक कहने वालों पर भारी जुर्माना भी लगा सकता है,

ताकि तलाक संबंधी मामलों में कमी लाई जा सके. काउंसिल के कई सदस्य एक बार में तीन तलाक को शिया और अहले-हदीस स्कूलों के विचारों के मुताबिक पूरी तरह शून्य घोषित करने के पक्ष में हैं.’

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here