GETTY-IMAGE

BY-THE FIRE TEAM

अब पाकिस्तान में प्रतिबंधित संगठनों- मुंबई पर हुए 26/11 हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद का जमात-उद-दावा (JuD) और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (FIF) की सूची से बाहर हो गए है.

मीडिया में आई ख़बर के मुताबिक इन संगठनों को संयुक्त राष्ट्र प्रस्ताव के तहत प्रतिबंधित करने वाला राष्ट्रपति द्वारा जारी अध्यादेश निष्प्रभावी हो गया, जिसके बाद वे अब गैर प्रतिबंधित करार कर दिए गए हैं.

आपको बता दें कि इस साल फरवरी में पूर्व राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने जमात-उद-दावा और FIF को प्रतिबंधित समूह घोषित करने के लिए आतंकवाद निरोधी अधिनियम, 1997 को संशोधित करते हुए अध्यादेश लागू किया था.

समाचारपत्र ‘डॉन’ की ख़बर के मुताबिक, सईद द्वारा दाखिल एक याचिका पर गुरुवार को सुनवाई के दौरान उसके वकील ने इस्लामाबाद उच्च न्यायालय को सूचित किया कि राष्ट्रपति द्वारा जारी अध्यादेश निष्प्रभावी हो गया है और उसकी अवधि को कभी नहीं बढ़ाया गया.

याचिकाकर्ता ने उस अध्यादेश को चुनौती दी थी, जिसके तहत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की निगरानी सूची में शामिल करने के लिए उसके संगठनों को प्रतिबंधित किया गया.

ज्ञात सूत्रों से पता चला है कि सईद ने याचिका में तर्क दिया कि उसने 2002 में जमात-उद-दावा को स्थापित किया था और प्रतिबंधित संगठन लश्कर-ए-तैयबा के साथ सारे संबंध खत्म कर लिए थे, लेकिन प्रतिबंधित संगठन के साथ पूर्व में उसके संबंध को लेकर भारत JuD की लगातार निंदा करता रहता है.

इसके अलावा, भारत पाकिस्तान पर निरंतर दबाव बना रहा है कि नवंबर, 2008 के मुंबई हमलों के साजिशकर्ताओं को कानून के समक्ष लाया जाए. सईद लश्कर-ए-तैयबा का सह-संस्थापक है, जो उस हमले के लिए जिम्मेदार है, जिसमें 166 लोग मारे गए थे.

अब विचारणीय पहलू यह है कि भारत जो की पाकिस्तान से सदैव शांतिपूर्ण वार्ता के लिए तैयार रहता है तथा दोस्ताना माहौल बनाना चाहता है, इस निर्णय को कैसे व्याख्या करता है.?

कौन है हाफिज सईद ?

हाफिज मुहम्मद सईद (जन्म: 10 मार्च 1950) आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक और वर्तमान में जमात-उद-दावा से सम्बंधित है. यह भारत की सर्वाधिक वांछित अपराधियों की सूची में शामिल है.

मुंबई के 26/11 हमले में उसका हाथ होने की बात सामने आई थी जिसमें छह अमेरिकी नागरिक समेत 166 लोग मारे गए थे. उस हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान से उसे सौंपने को कहा था.

अमेरिकी सरकार की ‘रिवाडर्स फॉर जस्टिस’ कार्यक्रम की वेबसाइट पर बताया गया कि हाफिज़ सईद प्रतिबंधित संगठन जमात-उद-दावा का प्रमुख और चरमपंथी गुट लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक है.

अमेरिका द्वारा जारी, दुनिया में ‘आंतकवाद के लिए जिम्मेदार‘ लोगों की सूची में हाफिज सईद का भी नाम है। 2012 से इसके ऊपर अमेरिका ने एक हजार करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here