GETTY IMAGE

BY-THE FIRE TEAM

अयोध्या में मंगलवार को दीपोत्सव-2018 के आयोजन मे शामिल होने के लिए दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किमजोंग-सुक सोमवार शाम लखनऊ पहुंचीं।

राजधानी के अमौसी हवाईअड्डे पर आज शाम सुक का स्वागत प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया। बाद में देर रात मुख्यमंत्री ने अपने सरकारी आवास में दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला के सम्मान में रात्रिभोज का आयोजन किया

राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि सुक आज शाम लखनऊ के अमौसी हवाईअड्डे पहुंचीं जहां उनका स्वागत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया।

देर शाम उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने सरकारी आवास पर दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किमजोंग-सुक के सम्मान में रात्रिभोज दिया। इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया।

इस मौके पर उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक एवं बिहार के राज्यपाल लालजी टण्डन भी उपस्थित थे। सुक के साथ उनके प्रतिनिधिमण्डल का लखनऊ, अयोध्या एवं आगरा भ्रमण का कार्यक्रम प्रस्तावित है।

कार्यक्रम के मुताबिक सुक कल लखनऊ से अयोध्या के लिए सड़क मार्ग से रवाना होंगी जहां वह रानी-हो स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित करेंगी। इसके बाद उनके द्वारा नये रानी-हो स्मारक पार्क का शिलान्यास किया जाएगा।

दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला, प्रभु श्रीराम व माता सीता के स्वरूपों के स्वागत तथा रामकथा पार्क में आयोजित कार्यक्रम के पश्चात नया घाट व राम की पैड़ी पर आयोजित आरती एवं दीप प्रज्ज्वलन कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगी। इन कार्यक्रमों के बाद सुक लखनऊ लौट जाएंगी।

सुक आगामी सात नवंबर की सुबह विमान से आगरा जाएंगी और ताजमहल का दीदार करेंगी। उसके बाद वह दक्षिण कोरिया रवाना हो जाएंगी।

दक्षिण कोरिया :

दक्षिण कोरिया  (हंजा)), पूर्वी एशिया में स्थित एक देश है जो कोरियाई प्रायद्वीप के दक्षिणी अर्धभाग को घेरे हुए है। ‘शान्त सुबह की भूमि’ के रूप में ख्यात इस देश के पश्चिम में चीन, पूर्व में जापान और उत्तर में उत्तर कोरिया स्थित है।

देश की राजधानी सियोल दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा महानगरीय क्षेत्र और एक प्रमुख वैश्विक नगर है। यहां की आधिकारिक भाषा कोरियाई है जो हंगुल और हंजा दोनो लिपियों में लिखी जाती है। राष्ट्रीय मुद्रा वॉन है।

विभीषिका झेल चुका दक्षिण कोरिया वर्तमान में एक विकसित देश है और सकल घरेलू उत्पाद (क्रय शक्ति) के आधार पर विश्व की तेरहवीं और सकल घरेलू उत्पाद (संज्ञात्मक) के आधार पर पन्द्रहवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।

कोरिया मे १५ अंतराष्ट्रीय बिमानस्थल है और करीब ५०० विश्वविद्यालय हैं. लोग बिदेशो से यहाँ अध्ययन करने आते है। यहाँ औद्योगिक विकास बहुत हुऐ है और कोरिया मे चीन सहित १५ देशो के लोग रोजगार अनुमति प्रणाली(EPS) के माध्यम से काम करते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here