PTI Photo

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज भाजपा पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह पार्टी जनता के जहन में नकारात्मक विचार पहुंचाकर उनके दिमाग से खेल रही है।

सपा अध्यक्ष ने आगे कहा-” नई साजिश रच रही इस पार्टी के गुमराह करने के बदलते तरीके को समझना बहुत जरूरी है। भाजपा महज सियासी फायदे के लिए जनता के मन में नकारात्मक विचारों को बैठा रही है। चारों तरफ फैले भ्रष्टाचार और किसानों की बदहाली से निराश जनता का ध्यान भटकाने के लिए भाजपा नई साजिशें रच रही है।”

सपा अध्यक्ष आज पार्टी राज्य मुख्यालय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने ना केवल भाजपा पर कड़ा हमला किया बल्कि अपने कार्यकर्ताओं को भी काफी समझाने का प्रयास किया।

सपा अध्यक्ष ने भाजपा पर यह भी आरोप लगाया कि इस पार्टी का गुमराह करने का तरीका भी बदल रहा है। इस आरोप को उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं के बीच बेहद सरल शब्दों में रख कर यह बताने का प्रयास किया कि भाजपा के इस तरीक़े को समझना होगा ताकि यह पार्टी पुनः भ्रम पैदा ना कर सके।

पीटीआई की खबर के अनुसार अखिलेश ने यह भी कहा कि “भाजपा सरकार जातिवाद का जहर घोल रही है। समाजवादी लोग चाहते हैं कि जनगणना जाति आधारित हो तो आबादी के हिसाब से योजनाओं का लाभकारी आवंटन हो सकता है। सामाजिक न्याय की लड़ाई बड़ी है समाजवादी ही इस लड़ाई को लड़ सकते हैं।”

photo-sarassalil.in

श्री अखिलेश ने भाजपा सरकार से जनता का भरोसा उठने की भी बात कही। उन्होंने कहा भाजपा सरकार ने जनता को नाउम्मीद कर दिया है। बढ़ते अपराधों ने आवाम का सुख-चैन छीन लिया है। लोग महंगाई और बेकारी से त्रस्त हैं। उन्हें अब अच्छे दिन आने की कतई उम्मीद नहीं रह गई है। भाजपा के झूठे वादों की सच्चाई लोग जान गए हैं। अब सबकी उम्मीद सन 2019 के लोकसभा चुनाव से ही बनी है जब भाजपा को सत्ता से उखाड़ फेंकेंगे।”

आपको बताते चलें कि अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री 2012 से लेकर 2017 तक रहे।
अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनने से पूर्व सांसद भी रह चुके हैं।

अखिलेश यादव के 2012 में मुख्यमंत्री बनने की खास बात यह रही थी कि पहली बार समाजवादी पार्टी पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आई थी।

पिछले साल यानी 2017 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन किया था। इस गठबंधन को भाजपा के द्वारा करारी शिकस्त मिली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here