PTI_IMAGE

BY-THE FIRE TEAM


पैन कार्ड के लिए अब 15 दिन का लंबा इंतजार नहीं करना होगा. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) की मानें तो टैक्स डिपार्टमेंट अब केवल चार घंटे के भीतर पैन नंबर उपलब्ध कराने की योजना पर काम कर रहा है.

सीबीडीटी के मुताबिक, पैन नंबर जल्दी हासिल करने के लिए सिर्फ आधार नंबर देना होगा, जिसके बाद चार घंटे में ही ई-पैन उपलब्ध करा दिया जाएगा.

सीबीडीटी चेयरमैन सुशील चंद्रा ने बताया कि सीबीडीटी जल्दी ही आवेदन मिलने के चार घंटे के भीतर ई-पैन देने की शुरुआत करेगा. बतौर चंद्रा-

‘हम एक नया सिस्टम सामने लाने जा रहे हैं. एक साल या कुछ समय बाद हम चार घंटे में पैन देना शुरू कर देंगे. पहचान के लिये आधार देना होगा और आपको चार घंटे में ही ई-पैन मिल जाएगा.’

चंद्रा ने कहा कि विभाग ने रिटर्न नहीं भरने वालों और ऐसे करदाता जिनकी रिटर्न के साथ उनकी आय का मिलान नहीं हो रहा है, ऐसे दो करोड़ लोगों को एसएमएस भेजे हैं.

उन्होंने करदाताओं और कर अधिकारियों के बीच आमना-सामना कम करने के विभाग के प्रयासों का जिक्र करते हुए कहा कि इस साल अब तक 70 हजार से अधिक मामलों में करदाता और कर अधिकारी के आमने सामने हुये बिना ऑनलाइन समाधान निकाला गया.

ITR भरने वालों की संख्या 50 प्रतिशत बढ़कर 6.08 करोड़ हुई :

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के चेयरमैन सुशील चंद्रा ने बताया कि देश में आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या में पिछले कुछ समय में तेज वृद्धि हुई है.

उन्होंने बताया कि निर्धारण वर्ष 2018-19 में अब तक आयकर रिटर्न (ITR) भरने वालों की संख्या पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले 50 प्रतिशत बढ़कर 6.08 करोड़ तक पहुंच गयी. चंद्रा ने कहा कि ”यह नोटबंदी का असर है.

उन्होंने कहा कि नोटबंदी देश में कर दायरा बढ़ाने के लिये काफी अच्छी रही है. इस साल हमें अब तक ही करीब 6.08 करोड़ ITR मिल चुके हैं जो पिछले साल की इसी अवधि में मिले ITR से 50 प्रतिशत ज्यादा हैं.

हालांकि, उन्होंने तिथि नहीं बताई जब ITR भरने वालों की संख्या 6.08 करोड़ तक पहुंच गई.

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here