https://twitter.com/PMOIndia/status/

BYTHE FIRE TEAM

2019 के लोकसभा चुनाव में भले ही अभी थोड़ा समय बाकी हो लेकिन प्रधानमंत्री मोदी सक्रिय हो गए हैं। उन्होंने कल विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि वह सरकार को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है।

कांग्रेस के राफेल सौदा, बैंक एनपीए तथा तेल के बढ़ते दामों पर आंदोलन के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि वह जनता को गुमराह कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस 2014 के हार को स्वीकार नहीं कर पाई और अब वह आने वाले चुनाव में 2014 से भी बड़ी आंधी को भाँपकर सरकार के खिलाफ दुष्प्रचार और अफवाह फैलाने में लगी है।

प्रधानमंत्री ने मेरा बूथ सबसे मजबूत पहल के तहत जयपुर, नवादा, हजारीबाग, गाजियाबाद और अरुणाचल(पश्चिम) के भाजपा कार्यकर्ताओं से नरेंद्र मोदी ऐप के माध्यम से संवाद में कहा कुछ लोग ऐसे रहे हैं जो अच्छे कामों से डरते हैं उनको अंधियारा इतना अच्छा लगता है कि उजाले को दोष देने लग जाते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिनके विचारों का 2014 में जनता ने इतना बुरा हाल किया वह उनकी सरकार (राजग सरकार) पर गुस्सा निकालेंगे ही। वह (विपक्ष) दुष्प्रचार करेंगे ही, वह झूठ फ़ैलाएंगे ही। ऐसे में भाजपा कार्यकर्ताओं को तथ्यों के आधार पर जनता के समक्ष बात रखनी है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास झूठ बोलने, दुष्प्रचार करने के अलावा कोई चारा नहीं है। जनता ने उसे नकार दिया, वह इस पर विचार करके इसे स्वीकार कर लेती तो ऐसी हल्की बातें नहीं करती।

मोदी ने कहा कि देश की जनता जाग गई है लेकिन विपक्ष जागने को तैयार नहीं है। बीते 4 वर्ष ने कांग्रेस और उसके कुछ सहयोगियों की पोल खोल दी है। पहले जनता ने उन्हें गवर्नेंस में असफलता, फैसले लेने में अक्षमता तथा भ्रष्टाचार के कारण बाहर का रास्ता दिखाया और अब विपक्ष की भूमिका निभाने का अवसर आया तो वहां भी वह फेल हो गए।

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा, वह(कांग्रेस) झूठ पर झूठ बोलने में लगी हुई है। आज कौन सा झूठ बोलें, कल कौन सा लांछन लगाएं, दिन रात इसी में लगे हुए हैं। इतनी बड़ी पार्टी की ऐसी बौद्धिक दरिद्रता कभी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि कांग्रेस परिवार कल्याण में लगी हुई है और भाजपा राष्ट्र निर्माण में लगी हुई है।

प्रधानमंत्री ने आगे बोलते हुए कहा पहले भ्रष्टाचार को सिस्टम का हिस्सा मान लिया जाता था, अब यह विश्वास जगा है कि काम पूरी पारदर्शिता के साथ होगा। इस बात पर माथापच्ची होती थी कि कितने एलपीजी कनेक्शन दिए जाएं, अब ढूंढा जा रहा है कि कहीं कोई गरीब उज्ज्वला योजना में छूट तो नहीं गया।

प्रधानमंत्री ने बैंक खातों, बिजली कनेक्शन तथा गरीब के आवास का भी जिक्र किया।
इसके साथ ही स्वच्छता अभियान, शौचालय निर्माण, ग्राम सड़क योजना,सुदूर क्षेत्रों में शिक्षा एवं अन्य जन कल्याण योजनाओं का जिक्र भी किया।

source-pti

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here