PTI_PHOTO

BY-THE FIRE TEAM


राजीनीति जो किसी समय शुचिता का विषय था, अब लगता है केवल खामियाँ गिनाने या आरोप लगाने का काम रह गया है।

तभी तो अब राजनेता अपने मंत्रालय से जुड़े विषयों पर बात न करके जनता को भटकाने और अशांति फ़ैलाने का ही कार्य कर रहे हैं।

वर्तमान केंद्र सरकार के एजेंडे का अवलोकन किया जाये तो यह बात स्पष्ट हो जाती है, इसी सम्बन्ध में मध्य प्रदेश में चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने मोदी लहर को लेकर बड़ा बयान दिया है।

उन्होंने कहा कि 2014 में भाजपा को चुनाव जीतने में मदद करने वाली  मोदी लहर अब आम आदमी के लिए जहरीली हो गई है।

आपको बताते चलें कि क्रिकेटर से राजनेता बने सिद्धू कभी भाजपा के कद्दावर नेताओं  में  शामिल थे और मोदी की तारीफों के पुल बांधा करते थे।

सिद्धू ने सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लेते हुए कहा कि मोदी साहब अब सिर्फ पूंजीपतियों की कठपुतली बनकर रह गए हैं।

अभी देश के तीन राज्यों-म०प्र०,राजस्थान ,छत्तीसगढ़ में चुनाव आयोजित किये गए जिसके नतीजे शीघ्र आने वाले हैं किन्तु,

यदि सम्पूर्ण चुनाव का जायजा लिया जाये तो इन राज्यों के असल मुद्दों पर कोई बहस नहीं दिखी जैसे म०प्र० का व्यापम घोटाला, भ्र्ष्टाचार वाहन के नेताओं की बेबाक बयानी आदि।

सिद्धू ने इस दौरान मोदी के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट ‘मेक इन इंडिया’ को लेकर भी जमकर निशाना साधा।
और कांग्रेस के समर्थन में जमकर बोले-

अपनी बात को आगे बढ़ते हुए उन्होंने कहा, ‘जब राफेल जेट फ्रांस और बुलेट ट्रेन जापान से आएगी तो यहां के लोग क्या करेंगे? वो पकोड़े तलेंगे।’

सिद्धू ने किसानों का मसला भी उठाया और बोले कि मोदी सरकार किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य नहीं देना चाहती लेकिन डीजल की कीमतें बढ़ाकर 82 रुपए प्रति लीटर कर देती है।

उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि यह अर्थशास्त्र नहीं ‘अनर्थशास्त्र’ है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here