PTI-PHOTO

BY-THE FIRE TEAM


अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई टलने से सुन्नी वक्फ बोर्ड के मेंबर व यूपी बार एसोसिएशन काउंसिल के पूर्व चेयरमैन इमरान माबूद खान ने निराशा जताई है।

उन्होंने कहा कि इस मामले में अब और ज्यादा इंतजार नहीं किया जा सकता, क्योंकि इससे न सिर्फ करोड़ों लोगों की भावनाएं जुड़ी हुई हैं, बल्कि देश के अमन को भी खतरा बना रहता है।

बोर्ड के मेंबर इमरान माबूद खान ने कहा कि इस बार की सुनवाई केंद्र सरकार की वजह से टली है। हमेशा यह इल्जाम लगता था कि वक्फ बोर्ड तारीखें लेकर सुनवाई को टलवा रहा है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं था।

वक्फ बोर्ड चाहता है कि जनवरी में सुनवाई शुरू होने पर इसे नियमित किया जाए। लोकसभा चुनाव से पहले ही फैसला भी सुना दिया जाए। उनके मुताबिक़ चुनाव से ठीक पहले सुनवाई टलने की वजह से इस मामले में सियासी पार्टियों को फिर से अपनी रोटियां सेंकने का मौका मिल जाएगा।

वहीं आपको बताते चलें कि अयोध्या मामले में जनवरी तक सुनवाई टलने के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला शुभ संकेत नहीं है।

आज सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मसले पर नियमित सुनवाई शुरू होनी थी, लेकिन जनवरी तक के लिए टाल दी गई है।

 गोरखपुर में भाजपा के अनुसूचित जाति-जनजाति मोर्चा के सम्‍मेलन में हिस्सा लेने लिए आए यूपी के उप मुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि यहां इस विश्‍वास के साथ आया हूं कि 2019 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्‍व में 2014 से बड़ी विजय प्राप्‍त करेंगे।

रामजन्‍म भूमि पर भव्‍य राम मंदिर का निर्माण होगा। लेकिन कब होगा, इसके न्यायालय को तय करना है। वहां पर बाबर के नाम की कोई इमारत नहीं बनेगी।

सुनवाई से कुछ दिन पहलेअयोध्या मामले में मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी को धमकी भरा खत भेजा गया था. इसके कारण यह मामला और पेचीदा हो गया है। किन्तु सुचना मिलने तक खत भेजने वाले की पहचान करके गिरफ्तार कर लिया गया है.

लेटर भेजने वाले व्यक्ति की पहचान सूर्य प्रकाश सिंह के रुप में हुई। वह अमेठी के मुसाफिरखाना कोतवाली अंतर्गत दादरा गांव का निवासी है।एएसपी अमेठी बीसी दुबे ने बताया कि फैजाबाद पुलिस उसे गिरफ्तार करने के लिए यहां आई थी।

मुसाफिरखाना पुलिस की संयुक्त टीम के साथ छापेमारी कर आरोपित को उसके पैतृक गांव दादरा से गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में 50 वर्षीय सूर्य प्रकाश सिंह ने बताया कि वह वर्ष 1992 में रामजन्म भूमि विवाद में 2 दिन के लिए जेल जा चुका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here