BYTHE FIRE TEAM


नई दिल्ली: लालू परिवार की मुसीबतें कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। एक तरफ बड़े बेटे तेज प्रताप ने तलाक का फैसला लेकर परिवार को चैन छीन लिया है तो दूसरी तरफ परिवार के मुखिया लालू प्रसाद यावद की लगातार बिगड़ती तबीयत परिवार के लिए परेशानी का सबब बनी हुई है।

लंबे समय से लालू यादव रिम्स में भर्ती हैं। यहां भी उनकी हालत लगातार बिगड़ती जा रही है। लालू प्रसाद यादव के दाहिने पैर के घुटने में हुए घाव के चलते काफी सूजन भी है। जिस कारण लालू का चलना फिरना अब काफी मुश्किल हो गया है।

आरजेडी प्रमुख लालू यादव का इलाज करने वाले डॉ. उमेश प्रसाद के मुताबिक लालू पहले से ही कई बीमारियों से घिरे हैं। ऐसे में उनके घुटने का घाव उनकी परेशानियों को और बढ़ा रहा है।

इस घाव के चलते उनके दाहिने पैर में काफी सूजन आ गयी है, जिसके कारण वे अब चलने फिरने में भी काफी दिक्कत महसूस कर रहे हैं। बीमारियों के कारण लगातार उन पर मानसिक दबाव भी बढ़ रहा है जिसे वे झेल नहीं पा रहे हैं।

फिलहाल लालू यादव को ऑब्जर्वेशन पर रखा गया है। अगर उनकी स्थिति नहीं सुधरती तो अन्य विकल्प अपनाए जाएंगे।

स्टेज 4 के करीब पहुंचा रोग:
आपको बता दें कि लालू प्रसाद यादव ह्दय रोग के साथ-साथ करीब 15 बीमारियों से जूझ रहे हैं। एक दिन पहले ही उनका ब्लड शुगर लेवल 190 पर पहुंच गया जबकि टोटल काउंटिंग 12100 तक पहुंच गया।

डॉक्टरों की माने तो टोटल काउंट का इतना ज्यादा बढ़ना साफ संकेत है कि उनके शरीर में इन्फेक्शन का लेवल काफी बढ़ा हुआ है। लालू यादव पहले से ही क्रोनिक किडनी डिजीज के तीसरे चरण के मरीज हैं। उनकी तबीयत ऐसी ही बनी रही तो वह स्टेज फोर उनकी बॉडी को घेर लेगी।

तेज को न मना पाना भी बड़ा कारण:
दरअसल लालू यादव घर की परिस्थितियों के चलते मानसिक दबाव में हैं। बड़े बेटे तेज प्रताप के पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने के फैसले के बाद भी उनकी तबीयत बिगड़ गई थी। इसके बाद तेज प्रताप पिता से मिलने रिम्स पहुंचे थे।

जहां लालू ने तलाक लेने के विचार को त्यागने को भी कहा था। तेज प्रताप के न मानने पर लालू ने घर लौटने पर बात करने को कहा था। आपको बता दें कि तेज प्रताप इन दिनों अपने घर पर नहीं है। वे कान्हा की नगरी में रह रहे हैं। ऐश्वर्या से तलाक पीछे भी तेज प्रताप ने कई तरह की बातें बताई हैं। इन बातों से भी लालू प्रसाद यादव की तबीयत काफी खराब हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here