BYTHE FIRE TEAM


स्थानीय लोगों का मानना है कि इतनी बड़ी संख्या में जब लोग अयोध्या में कूच करेंगे तो माहौल खराब हो सकता है. इसलिए वो अपने जरूरत की सामान जुटा रहे हैं ताकि परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.

अयोध्‍या में शनिवार को शिवसेना और रविवार को प्रस्तावित विश्‍व हिंदू परिषद के कार्यक्रम को लेकर माहौल गरम है. इसी कड़ी में हिंदू और मुस्लिम परिवारों ने तनाव और हालात बिगड़ने के डर से जरूरी सामान जुटाने शुरू कर दिया हैं.

लोग बड़ी संख्या में घर का राशन खरीद कर रख रहे है. स्थानीय लोगों में डर है कि यहां का माहौल बिगड़ ना जाए. यही कारण है कि तनाव की आशंका को देखते हुए स्थानीय लोग राशन जुटाना शुरू कर दिए हैं.

स्थानीय लोगों का मानना है कि इतनी बड़ी संख्या में जब लोग अयोध्या में कूच करेंगे तो माहौल खराब हो सकता है. इसलिए वो अपने जरूरत के सामान जुटा रहे हैं ताकि परेशानी का सामना नहीं करना पड़े.

वहीं पुलिस ने भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करके रखा हुआ है ताकि किसी भी तरह की अनहोनी से निपटा जा सके.

गौरतलब है शहर की सुरक्षा की जिम्मेदारी एडीजी स्तर के पुलिस अधिकारी को सौंपी गई है. इसके अलावा 3 एसएसपी, 10 एएसपी, 21 डीएसपी, 160 इंस्पेक्टर, 700 कांस्टेबल, पीएसी की 42 कंपनी, आरएएफ की 5 कंपनी, एटीएस कमांडो को सुरक्षा के लिए तैनात किया गया है. ड्रोन कैमरे की मदद से हर जगह की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है.

बता दें कि रविवार को होने वाली वीएचपी की धर्मसभा में करीब दो लाख लोगों के जुटने की संभावना है. वहीं, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे कुछ देर में अयोध्या पहुंचने वाले हैं. यहां वह संतों से मुलाकात करेंगे जबकि हजारों शिव सैनिक भी अयोध्या के लिए कूच कर चुके हैं.।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here