PTI/IMAGE

दिल्ली: के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को पुनः जेल जाने से पहले आम आदमी पार्टी के मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा है कि

“लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर जो सर्वे दिखाया जा रहा है, वह भ्रम पैदा करने वाला है. आप खुद पर यकीन रखें क्योंकि गठबंधन में शामिल सभी राजनीतिक दलों का अपना जन कल्याणकारी लक्ष्य है.

जरूरत यह है कि प्रत्येक मतगणना काउंटर पर अपने एजेंट नियुक्त करें तथा वीवीपीएटी और एवं डाले गए मतों का मिलान करें.

यदि मिलान नहीं होता है तो चुनाव को रद्द करा दें. शराब घोटाले में फंसे होने को लेकर जेल की सजा काट रहे केजरीवाल ने बताया कि वह तानाशाही के विरुद्ध लड़ रहे हैं.

शहीद भगत सिंह की कई बातों को याद करते हुए इन्होंने बताया कि भगत सिंह का कहना था कि जब सत्ता तानाशाही हो जाए तो जेल जिम्मेदारी बन जाती है. 

आज जेल सब की जिम्मेदारी है, हम भगत सिंह के चेले हैं. उन्होंने देश को बचाने तथा अंग्रेजों से मुक्त करने के लिए फांसी का फंदा चुना था, हम भी देश को बजाने के लिए जेल जा रहे हैं.

भाजपा द्वारा कराई गई सर्वे रिपोर्ट से पता चलता है कि वह बहुत ही हड़बड़ाये हुए हैं, वरना जिस राजस्थान राज्य में लोकसभा की कुल 25 सीटें है, वहां सर्वे रिपोर्ट में भाजपा को 33 सीटें मिलने की बात दिखाई जा रही है.

वास्तविकता यह है कि इस सर्वे रिपोर्ट के माध्यम से भाजपा जनता का मनोबल गिराने की कोशिश में जुटी हुई है क्योंकि इनके लोगों ने शेयर मार्केट में

अत्यधिक निवेश कर रखा है और उन्हें पता है कि यदि उनकी सरकार गई तो लोग शेयर बेच करके निकल जाएंगे.

अफसरशाही पर तीन दिनों तक पहले से ही दबाव बनाया जा रहा है. मैं पूरे दावे के साथ कह रहा हूं कि 4 जून को गठबंधन की सरकार देश में बनने जा रही है आप बिल्कुल ना घबराए और अपना मनोबल मजबूत बनाए रखें.

वही संजय सिंह जो आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सदस्य हैं, उनका कहना था कि भारत की राजनीति में अरविंद केजरीवाल एक ऐसे शख्स के रूप में सामने आए हैं

जिन्होंने मात्र 10 वर्षों में ही एक आम पार्टी को राष्ट्रीय पार्टी बना दिया है. यही वजह है कि देश की सरकार को सिर्फ एक ही व्यक्ति और पार्टी से डर है जिसका नाम है आम आदमी पार्टी.

यह काम दुर्भाग्यपूर्ण नहीं है कि जिस व्यक्ति पर भाजपा ने बेबुनियाद, झूठ और सबूत के बगैर केस में नाम दर्ज करके जेल भेजा है, इसका जल्द ही सच जनता के सामने आएगा.

बताते चलें कि अरविंद केजरीवाल ने भावुक होते हुए कहा है कि अब मुझे पता नहीं है कि यह लोग कब जेल से छोड़ेंगे.? किंतु मुझे इसकी परवाह नहीं है.

अगर भगत सिंह फांसी पर चढ़ गए तो मैं भी फांसी पर चढ़ने को तैयार हूं. मेरे शरीर का एक-एक कतरा देश के लिए है. मेरे जीवन के एक-एक पल देश के लिए है. जेल में मुझे आप सब की चिंता रहेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here