BY-THE FIRE TEAM 

बिहार के सुपौल जिले में एक स्कूल की 30 से ज्यादा नाबालिग लड़कियों ने जब एक दीवार पर कथित तौर पर पड़ोस के एक स्कूल के लड़कों द्वारा लिखी गयीं कुछ अशिष्ट टिप्पणियों का विरोध किया तो कुछ लोगों ने उनके साथ मारपीट की।

पीटीआई खबर केे अनुसार   पुलिस अधीक्षक मृत्युंजय कुमार चौधरी ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज होने के बाद इस मामले में एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। प्राथमिकी में नौ लोगों को आरोपी बनाया गया है।

सभी चोटिल लड़कियां जिले के त्रिवेणीगंज थाना क्षेत्र के सुपौल में दरपखा गांव के कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की छात्राएं हैं।

घटना शनिवार शाम की है जब आवासीय विद्यालय की छात्राएं अपने परिसर में खेल रही थीं।

पीटीआई खबर केे अनुसार  सुपौल के जिलाधिकारी बैद्यनाथ यादव ने  बताया कि दोनों स्कूल एक ही परिसर में हैं जिनकी इमारतें अलग हैं लेकिन खेल का मैदान एक ही है। लड़कों ने कथित तौर पर लड़कियों के स्कूल की दीवार पर कुछ अभद्र टिप्पणी लिख दी थीं। लड़कियों ने इसका विरोध किया और लड़कों को पीट-पीटकर भगा दिया।

बाद में सभी नाबालिग लड़कों ने अपने माता-पिता को यह बात बताई जिसके बाद उनकी माताओं ने अन्य ग्रामीणों के साथ मिलकर स्कूल परिसर में घुसकर लड़कियों पर हमला बोल दिया।

Google

यादव ने बताया कि घटना के समय खेल के मैदान में 74 बालिकाएं थीं और उनमें से 30 को चोट आई।

डीएम ने बताया कि सभी चोटिल छात्राओं को त्रिवेणीगंज रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 20 बालिकाओं को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी।

बाकी 10 का उपचार चल रहा है और एक या दो दिन में उन्हें छुट्टी दे दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here