agazbharat

गोरखपुर: मिली जानकारी के मुताबिक ‘राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की बैठक डिप्लोमा इंजीनियर संघ भवन पर रूपेश कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में हुई जिसका संचालन मंत्री मदन मुरारी शुक्ल ने किया.

इस बैठक में रूपेश श्रीवास्तव व मदन मुरारी शुक्ल ने मांगों की सूची पर प्रकाश डालते हुए सीएम योगी से अनुरोध करते हुए कहा है कि पहले

(1) पुरानी पेंशन बहाल किया जाए  (2) डेढ़ वर्ष के फ्रिज डीए का एरियर दिया जाए  (3) सातवें वेतन का फिटमेंट फैक्टर 2.68 से 3.67 किया जाए

(4) पेंशनरों को 60 वर्ष से हर पांचवें वर्ष 5% का लाभ दिया जाए (5) सभी रिक्त पदों को नियमित रूप से भरा जाए जिससे फिर कहीं पेपर लीक ना हो, संविदा नियुक्ति समाप्त किया जाए.

आउटसोर्सिंग द्वारा नियुक्ति समाप्त करने के साथ ही अनुदेशक पद का भी मानदेय बढ़ाया जाए. शिक्षामित्र की समस्या दूर किया जाए, 50% डीए बढ़ाने पर मूल वेतन में मर्ज किया जाए.

आठवां वेतन लागू हो एवं प्रदेश से लम्बित सहमति मांगो को पूरा किया जाए जो जैसे निलंबित भत्तों की बहाली वेतन विसंगतियां समाप्त करना आदि की तत्काल कड़ाई से पालन कर कर दिया जाए.

अपनी मांगों पर योगी सरकार से आग्रह करते हुए कहते हैं कि ये वर्षों से लंबित मांगे हैं जिसको लेकर सरकार से बराबर विभिन्न चरणों में संघर्ष किया गया परंतु मांगे पूरा न होने से कर्मचारियों में बड़ी कुंठित भावना है.

यदि मांगे पूरी नहीं होने पर आगामी दिनों में लखनऊ, दिल्ली में बैठक करके रणनीति बनाकर चरणवध तरीके से जंग शुरू होगी. इसके लिए सभी कर्मचारी एकजुट होकर कमरकस कर तैयार रहे.

बैठक में गोविंद रूपेश, राजेश सिंह, मदन मुरारी शुक्ल, इंजी. राम समुझ, वरुण बैरागी, इंजी. राजकुमार, यशवीर श्रीवास्तव, जितेंद्र कुमार दीपचंद, इंजी. रामकिसुन, इंजी निधि पांडे, कृष्ण मोहन गुप्ता, कनिष्क गुप्ता आदि उपश्थित रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here