BYTHE FIRE TEAM

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंटोनियो गुटरेस अगले महीने की शुरूआत में भारत की यात्रा करेंगे।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव के रूप में यह उनकी पहली भारत यात्रा होगी। संयोगवश, उनकी यात्रा महात्मा गांधी की 150 जयंती का कार्यक्रम शुरू होने पर होगी।

महासचिव के उप प्रवक्ता फरहान हक ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं को बताया कि गुतारेस एक अक्तूबर को नयी दिल्ली पहुंचेंगे।

हक ने बताया कि एक अक्तूबर को गुटरेस औपचारिक रूप से नयी दिल्ली में नये संयुक्त राष्ट्र भवन का उद्घाटन करेंगे। दो अक्तूबर को संयुक्त राष्ट्र महासचिव महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय स्वच्छता सम्मेलन के समापन सत्र में हिस्सा लेंगे।

उन्होंने बताया कि गुटरेस अपनी यात्रा के दौरान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से तीन अक्तूबर को मुलाकात करेंगे।

हक ने बताया कि वह ‘वैश्विक चुनौती, वैश्विक समाधान’ विषय पर इंडिया हैबिटैट सेंटर में व्याख्यान से पहले लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन से भी मिलेंगे।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन की महासभा की बैठक में भी हिस्सा लेंगे। तीन अक्तूबर की दोपहर वह अमृतसर में स्वर्ण मंदिर की यात्रा करेंगे और चार अक्तूबर को न्यूयॉर्क लौट जाएंगे।

गुटरेस ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव के तौर पर निर्वाचन से कुछ महीने पहले जुलाई 2016 में भारत की यात्रा की थी। उस समय अपनी यात्रा के दौरान उन्होंने सुषमा स्वराज से मुलाकात की थी।

गुटरेस की स्वर्ण मंदिर की यात्रा के बारे में पूछे गए सवाल पर हक ने कहा कि उनकी यात्रा नितांत निजी है क्योंकि संयुक्त राष्ट्र प्रमुख के तौर पर वह पवित्र सिख धार्मिक स्थल को देखना चाहते थे।

यह पूछे जाने पर कि अगर गुटरेस से 1984 के सिख दंगों के बारे में सवाल पूछा गया तो हक ने कहा कि इस पर कुछ भी कहना ‘जल्दबाजी’ होगी।

हक ने संयुक्त राष्ट्र सचिवालय के कॉन्फ्रेंस भवन की छत पर सौर पैनल लगाने और हरित छत के निर्माण के लिये 10 लाख अमेरिकी डॉलर का योगदान देने के लिये विश्व निकाय की तरफ से भारत सरकार के प्रति आभार भी प्रकट किया।

हक ने कहा कि इस पहल से सचिवालय को अपने कार्बन फुटप्रिंट को कम करने और सतत ऊर्जा को प्रोत्साहन देने में मदद मिलेगी।

 

(पीटीआई-भाषा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here