agazbharat

उत्तर प्रदेश: जैसा कि सरकार प्रत्येक महीने देश के करोड़ों लोगों को PDS के तहत फ्री में राशन मुहैया कराती है. यदि आप भी इस योजना का लाभ ले रहे हैं तथा अभी तक अपने आधार को

राशन कार्ड या खाद्य सब्सिडी खाते से नहीं जोड़ा है तो आपके लिए खुशखबरी है. दरअसल केंद्र सरकार PDS के तहत राशन लेने वाले लाभार्थियों के लिए राशन कार्ड

को आधार से लिंक करने के लिए समय सीमा तीन महीने बढ़ा दी है. इसका मतलब है कि आपको फ्री में राशन मिलता रहेगा. बताते चलें कि केंद्रीय खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग की

ओर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि अब 30 सितंबर, 2024 तक लाभार्थी राशन कार्ड या फूड सब्सिडी अकाउंट को आधार से लिंक करा सकेंगे.

पिछली अधिसूचना में इसके लिए 30 जून, 2024 तक का समय दिया गया था. इस अधिसूचना के अनुसार तय समय में या तो राशन कार्ड को आधार से लिंक करना होगा या जिन लाभार्थियों के पास

आधार नहीं है, उन्हें इसके लिए आवेदन कर उसका प्रमाण जमा कराना होगा. ऐसा नहीं करने पर फ्री में राशन नहीं मिलेगा. चूँकि राशन कार्ड को आधार से जोड़ना जरूरी है, ऐसे में केंद्र सरकार ने

फरवरी 2017 में पीडीएस के तहत लाभ लेने के लिए राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करना जरूरी कर दिया था. फ्री राशन लेने के लिए राशन कार्ड की ई-केवाईसी (E-KYC) करवानी होगी.

इस योजना में कोई गड़बड़ी न हो और जरूतमंद को समय पर राशन उपलब्ध कराने के लिए केवाईसी को अनिवार्य किया है. लाभार्थियों को नई समय सीमा तक अपने राशन कार्ड को

आधार कार्ड के साथ लिंक कराने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है. आप अपने पास की राशन की दुकान पर जाकर अपने आधार को राशन कार्ड के साथ लिंक करा सकते हैं.

राशन कार्ड की E-KYC करवाने के लिए आपका आधार कार्ड अपडेट होना चाहिए. उसमें दर्ज बायोमेट्रिक डिटेल के हिसाब से राशन कार्ड अपडेट किया जाएगा.

यदि आपका आधार कार्ड अपडेट नहीं है तो आपको पहले उसे अपडेट करवाना होगा. राशन कार्ड केवाईसी के लिए राशनकार्ड धारक परिवार के मुखिया सहित सभी लोगों की बायोमेट्रिक केवाईसी जरूरी है.

केवाईसी के लिए जन वितरण प्रणाली की दुकान पर राशन कार्ड नंबर और आधार नंबर बताना होगा. परिवार के जिन-जिन सदस्‍यों का नाम राशन कार्ड में है,

उन सबको अपनी ऊंगलियों की छाप देनी होगी और आधार नंबर दर्ज कराना होगा। केवाईसी फ्री में होती है. मान लीजिए, यदि किसी परिवार के राशन कार्ड में कुल 6 सदस्‍यों के नाम हैं

और कोई एक सदस्य फिंगर प्रिंट नहीं देता है यानी वो केवाईसी नहीं कराता है तो ऐसी स्थिति में उस सदस्य का नाम राशन कार्ड से कट जाएगा और बाकी सदस्यों

के नाम से राशन मिलता रहेगा, इस तरह 6 की जगह 5 सदस्‍यों को ही राशन मिलेगा, इसलिए राशन कार्ड की E-KYC करना जरूरी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here