dna india

मिली जानकारी के मुताबिक केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को लोकसभा में बताया कि-

“काला धन तथा कर अधिरोपण अधिनियम 2015 के अंतर्गत 368 दर्ज मामलों का आकलन पूर्ण हो चुका है.

इसके अंतर्गत 31 मई, 2022 तक भारत द्वारा विदेशी बैंक खातों में 8,468 करोड़ रुपए जमा करने के साक्ष्य मिले हैं जो अघोषित आय है.

इसको कर दायरे में लाकर 1,294 करोड़ का अर्थदंड लगाया गया है. स्विस बैंकों में जमा भारतीयों के धन में बढ़ोतरी की रिपोर्ट चौंकाने वाली है.

आपको बता दें कि लोकसभा में दीपक बैज एवं सुरेश नारायण धानोरकर के लिखित प्रश्न उत्तर में सीतारमण द्वारा चौंकाने वाली बात कही गई है.

सदस्यों के पूछे जाने पर कि क्या स्विस बैंकों में भारतीय नागरिकों तथा कंपनियों की ओर से जमा की गई धनराशि में वृद्धि हुई है अथवा कमी,

तो वित्त मंत्री ने स्पष्ट तौर पर बताया है कि फिलहाल भारतीय नागरिकों और भारतीय कंपनियों की ओर से स्विस बैंकों में कितना धन जमा है,

इसको लेकर कोई सरकारी अनुमान पूर्णत: प्राप्त नहीं है किंतु वर्ष 2020 की तुलना में 2021 में स्विस बैंकों में भारतीयों द्वारा जमा किए गए धन में वृद्धि दिख रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here